Thursday, May 5, 2016

सम्राट चंद्र गुप्त मौर्य जयंती


राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक , आगरा


Thursday, June 18, 2015

Akhil bhartiya kushwaha mahasabha ki rashtriya karyasamiti bethak



























Akhil bhartiya kushwaha mahasabha ki rashtriya karyasamiti bethak

ranchi Jharkhand me 14-15 jun 2015 ko hui jisme rashtriya adhyaksh shri narayansingh kushwaha ji (vidhayak- Gwalior dakshin), rashtriya mahamantri shri kushwaha rakesh mahto ji, rashtriya karyakari adhyaksh shri j.d koushal saini ji, rashtriya koshadhyksh shri jugal kishore kushwaha ji, rashtriya salahkaar shri basant kapariya ji, rashtriya upadhyaksh shri m. praksh kachhi ji, rashtriya upadhyksha smt. Asha mourya ji, rashtriya upadhyaksh shri mahadev Prasad kushwaha ji, rashtriya sachiv digambar Mehta ji, rashtriya sachiv shri ashok kushwaha ji, rashtriya sachiv shri lokmann kushwaha ji, rashtriya sachiv smt. Nikunj kushwaha ji, rashtriya sachiv smt. Prabha kushwah ji, rashtriya sachiv shri ramsevak Prasad ji, rashtriya sachiv shri r.p. singh ji, rashtriya sachiv shri kashiram dehlwar ji , karyakari sadsya shri netram kushwaha ji, karyakari sadsya shri vinay mourya ji, karyakari sadsya shri harishankar kushwaha ji aur sabhi padadhikariyo ke sath mujhe aur meri patni smt. Deeksha kushwaha ko bethak me shamil hone ka soubhagya prapt huva…  aap sabhi ka aabhari manoj kushwaha, indore, m.p. 

Monday, December 22, 2014

akhil bhartiya yuva kushwaha mahasabha, delhi


shri manoj kushwah (indore)

akhil bhartiya yuva kushwah mahasabha me

 rashtriya upadhyksh 

banaya gaya...








Wednesday, August 29, 2012

भगवान लवकुश की जयंती पर कुशवाहा समाज ने भारत के विभिन्न जिलों में शोभायात्राएं निकाली


1. मध्य प्रदेश - इंदौर 


 



2. मध्य प्रदेश - गंजबासोदा 






3. मध्य प्रदेश- बुरहानपुर 



4. मध्य प्रदेश - कसरावद 







































5. मध्य प्रदेश- मनासा 








































6. मध्य प्रदेश- गुलाबगंज 



























7.  मध्य  प्रदेश -सागर- गढ़ाकोटा- 

 कुशवाहा समाज ने लवकुश जयंती पर शोभायात्रा निकाली। बकौली तिराहा स्थित हनुमान मंदिर में मुख्य अतिथि पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव ने लवकुश की पर पुष्प अर्पितकर पूजन किया।
              इस मौके पर कुशवाहा समाज के अध्यक्ष बलराम पटेल ने श्री भार्गव का शाल एवं श्रीफल से सम्मान किया। इसके बाद श्री भार्गव ने राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त पीएल पटेल का सम्मान किया। इस मौके पर श्री भार्गव ने गांव में धर्मशाला का निर्माण कराने आश्वासन दिया। इस अवसर पर नगरपालिका उपाध्यक्ष मनोज तिवारी, पार्षद महेश सिंह ठाकुर, सुल्टू बाबू, डॉ. राजेंद्र चौबे सहित बड़ी संख्या में गणमान्य लोग शामिल थे। पूजन के बाद शोभायात्रा शुरू हुई जो गल्ला बाजार, मोटर स्टैंड, टॉकीज चौराहा, रुई बाजार, मेन मार्केट से होती हुई जगदीश मंदिर पटैरिया पहुंची। जहां पर आरती वंदना के बाद प्रसाद वितरण हुआ।




8. मध्य प्रदेश- खुरई 




9.   मध्य प्रदेश- विदिशा 




10.  मध्य प्रदेश- सिरोंज  












 
 11. मध्य प्रदेश - सागर 

 






















12.   मध्य  प्रदेश-बड़वानी

लव-कुश ने थामा श्रीराम का घोड़ा

  कुशवाह समाज ने निकाली शोभायात्रा



लव-कुश ने भगवान श्रीराम का घोड़ा थामा। हनुमान जय श्रीराम के जयघोष के साथ शामिल हुए। समाज के लोगों ने भी बढ़ चढकर भागीदारी की। गुरुवार को दोपहर 3 बजे क्षत्रीय कुशवाह समाज ने आराध्य भगवान लव-कुश की जयंती मनाई। समाज अध्यक्ष नंदराम कुशवाह ने बताया दोपहर 3 बजे काछी मोहल्ला स्थित श्रीराम मंदिर में महाआरती की गई। इसके बाद चल समारोह निकाला।

आधा किलोमीटर लंबा चल समारोह : महाआरती के बाद निकले चल समारोह में बड़ी संख्या में समाज के महिला-पुरुषों ने भाग लिया। करीब आधा किलोमीटर लंबे चल समारोह में डीजे पर थिरकते युवा शामिल थे तो दो घोड़ों पर सवार युवक ऐश्वर्य का प्रदर्शन कर रहे थे। दो रथों में से एक पर भगवान लव-कुश और हनुमान की झांकी सजाई गई थी। दूसरे रथ से प्रसादी का वितरण किया जा रहा था।

चॉकलेट और पानी पाउच से स्वागत : रोटरी क्लब चौराहा पर आदिम जाति सेवा सहकारी समिति ने स्वागत किया। बच्चों को चॉकलेट वितरित की एवं पानी के पाउच प्रदान किए। इस दौरान अशोक गोले, सलीम तिगाले, रज्जाक तिगाले, प्रबंधक रमेश लाखे एवं सोसायटी के कर्मचारी एवं अध्यक्ष चंद्रशेखर यादव मौजूद थे।

रथ में बनाई भगवान लव-कुश एवं हनुमान की झांकी।

बड़वानी. शोभायात्रा में झूमती समाज की युवतियां एवं महिलाएं। 



13.    मध्य  प्रदेश - बीना -देवरीकला-


 
कुशवाहा समाज की ने लवकुश जयंती धूमधाम से मनाई गई। हाईस्कूल स्थित मां हरसिद्धी के मंदिर से बाजे-गाजे और अखाड़े के साथ शोभायात्रा प्रारंभ हुई। जो नगर के प्रमुख मार्गों से होते हुए पंचमुखी हनुमान मंदिर पर समाप्त हुई। शोभायात्रा में भगवान लवकुश की झांकी सजाई गई। शोभायात्रा में बड़ी संख्या में कुशवाहा समाज के लोग शामिल हुए। 



  14.   मध्य  प्रदेश-सागर-गौरझामर-
भगवान लवकुश की जयंती पर कुशवाहा समाज ने शोभायात्रा निकाली। सुबह फूलबाग मैदान में भगवान लवकुश की पूजा-अर्चना कर आरती उतारी। इसके बाद गांव के प्रमुख मार्गों से शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा महाकाली तिराहा, नयापुरा, इतवारा, गांधी चौक से होती हुई न्यू मार्केट बस स्टैंड से वापस फूलबाग मैदान पर जाकर समाप्त हो गई। शोभायात्रा में राजाराम पटेल, कुंदन पटेल सेमरा, नर्मदा मासाब, नाथूराम पटेल, शोभायात्रा में बड़ी संख्या में कुशवाहा समाज के लोग शामिल हुए। 


15 .  मध्य  प्रदेश-सागर- घूघर 
 गांव में कुशवाहा समिति के तत्वावधान में लवकुश जयंती पर शोभायात्रा निकाली गई। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक गोविंद सिंह राजपूत ने भवन निर्माण के लिए दो लाख रुपए तथा प्रत्येक अखाड़े को दो-दो हजार रुपए की सामग्री देने की घोषणा की। विशिष्ट अतिथि के रूप में जिला ग्रामीण कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हीरासिंह राजपूत, भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष सरोज सिंह व समाज के अध्यक्ष पूरनसिंह कुशवाहा मौजूद थे। शोभायात्रा में घूघर के अलावा चकेरी, बदबदी, पिपरिया, हिन्नौद, बरखुवा, बरोदा गांव के अखाड़े शामिल हुए। इस अवसर पर राजाराम कुशवाहा, जीपी पटेल, एनपी कुशवाहा, अर्जुन, दिलीप पटेल, गिरधारी पटेल, हेमराज पटेल, हरकिशन पटेल, गंधर्व पटेल, जसवंत सिंह सरपंच, महेश सिंह सहित बड़ी संख्या में समाज के लोग उपस्थित थे।

16. मध्य  प्रदेश - मुरेना - अंबाह    
नगर की सड़कों पर नजारे अन्य दिनों से अलग थे। छोटे-छोटे ब'चे भगवान लवकुश, श्रीराम, लक्ष्मण एवं सीता मैया के रुप में सजधज कर लीलाएं कर रहे थे। यह सब हो रहा था भगवान लवकुश की शोभायात्रा में। कुशवाह समाज ने लवकुश जयंती के उपलक्ष्य में तालाब रोड से शहर भर में धूमधाम से शोभायात्रा निकाली। यात्रा में महिलाएं एवं बालिकाएं भजन गाते हुए चल रही थी तो पुरुष बैंडबाजों की धुनों पर नाच रहे थे।
कुशवाह समाज ने अपने पूर्वज भगवान लवकुश की जयंती व 34वां वार्षिक कुशवाह बंधु मिलन समारोह कार्यक्रम का आयोजन गुरुवार को किया गया। सुबह कुशवाह समाज के लोग तालाब परिसर में एकत्रित हुए। यहां से गाजे-बाजे के साथ भगवान की झांकियों के साथ शोभायात्रा शुरू हुई, जिसमें समाज के लोग ‘जो बोलेगा जय लवकुश वह रहेगा हमेशा खुश’ के नारे लगा रहे थे। नगर में शोभायात्रा का जगह-जगह स्वागत किया गया। शोभायात्रा के बाद तालाब परिसर में मिलन समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें सांसद नरेन्द्र सिंह तोमर विशेष रुप से उपस्थित थे। 

कार्यक्रम को सांसद नरेन्द्र सिंह तोमर, गृह राज्य मंत्री नारायणसिंह कुशवाह ने भी किया संबोधित।
कार्यक्रम में सांसद नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि भगवान लवकुश के वंशज कुशवाह समाज का इतिहास गौरवशाली है। समाज के लोग पराक्रमी व मेहनती हैं। आज जरूरत है कि समाज संगठित और एकत्रित हो जिससे कुरीतियों को दूर करने अभियान चलाया जा सका। सांसद श्री तोमर ने कहा कि कुशवाह समाज शिक्षा को महत्व दे। संगठित शिक्षित होगा तो उसकी तरक्की रोकना किसी के वश की बात नहीं है। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे गृह राज्य मंत्री नारायणसिंह कुशवाह ने कहा कि हमारा मकसद भगवान लवकुश के सिद्धांतों पर चलकर समाज का विकास करना है। जिसके लिए हमें कन्या भू्रण हत्या, मृत्युभोज जैसी कुरीतियों को मिटाना है। कार्यक्रम को दिमनी विधायक शिवमंगल सिंह तोमर, कमलेश सुमन एवं मधुराज सिंह तोमर ने भी संबोधित किया। इस मौके पर बाबूलाल कुशवाह, रामविलास कुशवाह, अंबरीश कुशवाह, जगन्नाथ कुशवाह, पुत्तू कुशवाह सहित अन्य लोग उपस्थित थे। 

17. मध्य  प्रदेश - ब्यावरा 
कुशवाह युवा महासभा ने रविवार शाम को भगवान लवकुश जयंती श्रद्धा से मनाई। इसमें समाज के सैकड़ों सदस्य शामिल हुए। कुशवाह धर्मशाला में यह जयंती समारोह रखा गया था। इस मौके पर पूर्व जिला अध्यक्ष कैलाश कुशवाह, प्रदेश प्रवक्ता प्रेम कुशवाह आदि ने सदस्यों को भगवान लवकुश के पराक्रम की प्रेरणा लेने का आह्नान किया। इस मौके पर समाज नगर अध्यक्ष अमी चंद्र कुशवाह, भारतसिंह कुशवाह,कमल, चंदर लाल कुशवाह, गोपाल कुशवाह, देवचंद्र, कन्हैयालाल कुशवाह आदि मौजूद थे।  

18.  मध्य  प्रदेश -खरगोन  
  कुशवाह क्षत्रिय समाज संगठन नागझिरी इकाई द्वारा लव-कुश जयंती धूमधाम से मनाई। समाज के ईष्टदेव भगवान कुश की विशाल शोभायात्रा भी ग्राम के प्रमुख मार्गा से निकाली गई। इस दौरान भगवान के भजनों से ग्राम की सारी गलियां गूंज उठी। वही स्वजातूय बंधुओं द्वारा भी घर-घर लव- कुश भगवान की पूजा-अर्चना की। शोभायात्रा का समापन स्थानीय श्रीराम मंदिर में महाआरती के बाद किया गया। इस अवसर पर ग्राम अध्यक्ष रामकरण कुशवाह,श्रीराम कुशवाह, गजेन्द्र चौधरी, राजीव कुशवाह, लखन चौधरी, घीसीलाल चौधरी,कैलाश कुशवाह,पंढरी चौधरी आदि भी उपस्थित थे।

19.    मध्य  प्रदेश -नरसिंहगढ़


 
मंगलवार को कु शवाह समाज ने धूमधाम से अपने पूर्वज महाराज कुश की जयंती मनाई। इस मौके पर कुशवाह समाज धर्मशाला अर्जुन गोशाला के पीछे तहसील स्तरीय कार्यक्रम म आयोजित किया गया।
इस दौरान भगवान राम, सीता और लव-कुश के चित्र की पूजा की गई। कार्यक्रम के दौरान समाज विकास के लिए सामूहिक प्रयासों का संकल्प लिया गया। आयोजन में जिलाध्यक्ष इंदरलाल कुशवाह, ब्लाक अध्यक्ष गौरीशंकर कुशवाह, नगर अध्यक्ष मनीराम कुशवाह, भगवान सिंह कुशवाह मानपुरा देव, अमर सिंह इलाहीपुरा, दौलत सिंह सेमलागोगा, दुर्गा प्रसाद और जगदीश कुशवाह कुरावर, सुनील कुशवाह कोटरा, पर्वत सिंह आंदलहेड़ा, तुला बाबा, रामसिंह कुशवाह सहित बड़ी तादाद में समाज के सदस्य मौजूद थे। 


20.    उत्तर प्रदेश --दिलदारनगर (गाजीपुर) :
कुश स्मारक विद्यालय में गुरुवार को कुश जयंती मनाई गई। कार्यक्रम की शुरूआत सर्वप्रथम पूर्व सांसद जगदीश कुशवाहा ने लव कुश के चित्र पर माल्यार्पण करके किया।
वक्ताओं ने कहा कि जिस तरह लव व कुश अपने जीवन में संघर्ष करके आगे बढ़ने का काम किए। ठीक उसी प्रकार आज हमें इतिहास पढ़कर अपने समाज व देश के लोगों को हमें आगे बढ़ने की प्रेरणा लेनी चाहिए। हमारा समाज कुश और दया करुणा के प्रतिमूर्ति गौतमबुद्ध के आदर्शो को अपनाकर ही चरित्रिक विकास कर सकता है। इस मौके पर उमाशंकर कुशवाहा, सर्वजीत कुशवाहा, धनन्जय मौर्य, डा. श्याम नारायण, डा. शंभू कुशवाहा, दीनानाथ कुशवाहा, गामा कुशवाहा आदि मौजूद रहे। अध्यक्षता धर्मराज कुशवाहा व संचालन रामेश्वर कुशवाहा ने किया।




21.   उत्तर प्रदेश - अयोध्या,
 नागेश्वरनाथ मंदिर में भगवान श्रीराम के पुत्र लवकुश की जयंती धूमधाम से मनाई गई। मंदिर के प्रबंधक सभापित तिवारी की देखरेख व सरयू मंदिर के पुजारी लाल जी मिश्र के सहयोग से यह उत्सव धूमधाम से मनाया गया।
इस अवसर पर श्री लव तथा श्री कुश के विग्रहों को पूजन-अर्चन कर उन्हें नये वस्त्र पहना गए। विविध व्यंजनों का भोग लगाकर श्रद्धालुओं को प्रसाद वितरित किया गया। इस अवसर पर आरती में बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए। प्रबंधक सभापति तिवारी ने बताया कि नागेश्वरनाथ महादेव श्रीराम के पुत्र कुश द्वारा स्थापित हैं। इस लिए मंदिर परिसर के उप मंदिर में श्रीलव -कुश के विग्रह स्थापित है। समारोह में मुख्य अर्चक जनार्दन प्रसाद चतुर्वेदी, दुर्गा प्रसाद पांडेय, वीरेंद्र पांडेय पुत्तीलाल, नंदकिशोर मिश्र, अंजनी कुमार मिश्र गोपाल, राजेंद्र पांडेय, जितेंद्र कुमार मिश्र उर्फ बब्लू, नागनाथ मंदिर के पुजारी राजीव लोचन मिश्र, संतोष कुमार मिश्र आदि मौजूद रहे।


22.   उत्तर प्रदेश-अलीगढ़ :
जिला कुशवाहा महासभा ने रविवार को लवकुश जयंती मनाई। आइकन शू कंपनी के जूतों पर भगवान बुद्ध का चित्र छापे जाने की निंदा की गई। इस अवसर पर राम सिंह, रघुवीर सिंह, गजेंद्र पाल सिंह, राधेश्याम, हरिशंकर, प्रभुदयाल थे।
कुशवाहा मौर्य शाक्य सैनी कल्याण एसोसिएशन ने गांधीनगर स्थित कार्यालय में लवकुश जयंती मनाई। राष्ट्रीय महासचिव लक्ष्मी नरायन गांधी, जिलाध्यक्ष किशन सैनी, योगेश, चंद्रपाल, दीपक थे।



23.    झारखण्ड -गिरिडीह :  
लव-कुश समाज में एकजुटता लाने के लिए नए सिरे से प्रयास करना होगा। किसी भी समाज को गोलबंद किए बगैर अधिकार और सम्मान की लड़ाई नहीं लड़ी जा सकती। सूबे के भू-राजस्व मंत्री मथुरा प्रसाद महतो ने गुरुवार को शहर से सटे सिहोडीह में आयोजित लव-कुश जयंती समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए यह बात कही।
उन्होंने कहा कि समाज को शिक्षित और जागरूक बनाने के लिए प्रत्येक स्तर पर पहल करनी होगी। समिति को इसके लिए ग्रामीण स्तर पर अभियान चलाना होगा। मौजूदा प्रयास इस दिशा में सार्थक है लेकिन अभियान को अभी काफी सफर तय करना है। उन्होंने अपने स्तर से हरसंभव सहयोग का आश्वासन दिया।
हजारीबाग के पूर्व सांसद भुनेश्वर मेहता ने कहा कि लव-कुश समाज में एकता के लिए प्रदेश स्तर पर ऐसे कार्यक्रम आयोजित करने की जरूरत है। पूरे राज्य में लव-कुश समाज की अच्छी खासी आबादी होने के बाद भी यह आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक दृष्टिकोण से पिछड़ा हुआ है। जिप अध्यक्ष मुनिया देवी ने महिलाओं को सामाजिक हक देने की वकालत की।
कहा कि समाज में भ्रूणहत्या जैसी घटना आज भी घट रही है। इसे रोकने के लिए जागरूक लोगों को आने आना होगा। ओडिशा के राउरकेला कॉलेज की व्याख्याता प्रो. माधुरी विजय ने कहा कि नारी शिक्षा के बिना हर बदलाव अधूरा है। समाज को सबसे पहले अपनी बेटियों को बेहतर तालीम देने के लिए आगे आना होगा। उन्होंने राजनीतिक सत्ता में महिलाओं की अधिक भागीदारी पर भी जोर दिया।
इसके पूर्व कार्यक्रम का उद्घाटन जिप अध्यक्ष मुनिया देवी ने किया। मौके पर समिति के अध्यक्ष पूरन महतो, सचिव दिगंबर प्रसाद दिवाकर, आजसू के केंद्रीय सचिव दामोदर प्रसाद महतो, झाविमो के केंद्रीय सचिव प्रणव वर्मा, जदयू के पूर्व जिलाध्यक्ष डा. संजीव संजय, तिलक महतो, डा. कपिलदेव महतो, जिप सदस्य जितेंद्र सिंह, विनय कुमार सिंह, वसंत वर्मा, तारकेश्वर वर्मा, रामदेव वर्मा, उषा देवी, रिंकू शर्मा, डा.अशोक कुमार वर्मा, शिवशंकर वर्मा आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए। मौके पर लव-कुश जयंती समारोह समिति के कार्यालय का भी विधिवत उद्घाटन किया गया।

24.   झारखण्ड  लोहरदगा :
लव-कुश जयंती समारोह के मौके पर बतौर विशिष्ट अतिथि उपस्थित स्थानीय विधायक कमल किशोर भगत ने कहा कि शिक्षा के बिना उत्थान संभव नहीं है। समाज में व्याप्त कुरीतियां समाज को खोखला बना रही हैं। शिक्षा के अभाव में पिछड़ापन हमें आगे बढ़ने से रोक रहा है। वे राज्य की जनता और लोहरदगा के विकास के लिए हमेशा प्रयासरत रहेंगे। लव-कुश समाज को विधायक निधि से एम्बुलेंस मुहैया कराया जाएगा। लव-कुश जयंती समारोह के मौके पर विधायक कमल किशोर भगत ने इसकी घोषणा की। श्री भगत ने कहा कि वे जिले को समस्या मुक्त बनाने के लिए हमेशा प्रयासरत रहेंगे। इससे पूर्व समाज के जिलाध्यक्ष राजेन्द्र महतो राजू ने विधायक से लव-कुश समाज के लिए एम्बुलेंस देने की मांग की थी। लव-कुश जयंती समारोह में कुशवाहा महासभा के सदस्यों द्वारा विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। जिसमें समाज की बच्चियों ने भी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। लव-कुश वंदना के साथ कार्यक्रम की शुरूआत हुई। जिसके बाद स्वागत गीत समेत एक से बढ़कर एक नृत्य व गीत प्रस्तुत किए गए। शिवानी ने कैरेक्टर ढीला है गीत पर नृत्य, स्वाती व सहेलियों ने बारिश की छम-छम में तेरे दर पर आए हैं, निशांत कुमार व समूह ने जय कन्हैया लाल की गीत पर नृत्य प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम की प्रस्तुति का सबने खूब आनंद उठाया। बच्चों के मनमोहक कार्यक्रमों ने समा बांध दिया। मुख्य अतिथि ने भी बच्चों की प्रस्तुति की खूब सराहना की।

25.   बिहार-दरभंगा-मुंगेर
 जिला लव-कुश चेतना समिति के द्वारा उमाशंकर राव की अध्यक्षता में पूरबसराय स्थित चतुर्भुज सहाय लेन में लव-कुश की जयंती मनाई गई। समिति के महासचिव महेन्द्र नारायण सिंह, देवकी मंडल, रामचंद्र प्रसाद, राजेन्द्र प्रसाद मंडल, सुरेन्द्र मंडल, सरयुग मंडल, रामकृष्ण सिंह आदि ने लव-कुश के तैलीय चित्र पर माल्यार्पण किए, तत्पश्चात वक्ताओं ने लव-कुश के वीरता पर प्रकाश डाला। धन्यवाद ज्ञापन अनिल मानकर ने किया।

26. हरियाणा - कैथल 






















27. मध्य प्रदेश - राजगढ़



 कुशवाह समाज ने बुधवार को गांधी चौक स्थित समाज की धर्मशाला में लवकुश जयंती उत्सव मनाया। इस मौके पर भगवान राम, सीता और लवकुश की तस्वीरों की पूजा की गई। बालिका रानी, राधा और सीता कुशवाह ने संस्कृत में लवकुश की स्तुति प्रस्तुत की। आयोजन में समाज के अशोक कुशवाह, मनोहर, राजू, राजेश, राधेश्याम, प्रेम कुशवाह, रामस्वरूप, दिनेश, कैलाश, मोहन कुशवाह सहित दूसरे सदस्य शामिल हुए।










 28.   मध्य प्रदेश -सिहोर




भगवान राम के अश्वमेघ यज्ञ का घोड़ा पकडऩे वाले लव-कुश की सवारी सोमवार को धूमधाम से निकाली गई। बड़ी संख्या में समाजजन शामिल हुए जो लवकुश के जयघोष करते चल रहे थे। इस दौरान अखाड़े के कलाकारों ने भी अपनी बेहतरीन कला का प्रदर्शन किया।

कुशवाह समाज द्वारा निकाले गए इस चल समारोह में भगवान लवकुश की झांकी को मनमोहक रुप में सजाकर निकाला गया। चल समारोह दोपहर 12 से भोपाल नाका स्थित हनुमान मंदिर से शुरू हुआ, जो नगर के विभिन्न मार्र्गों से होता हुआ शुगर मिल चौराहा स्थित सुंदर गार्डन पहुंचा। यहां चल समारोह का समापन हुआ। चल समारोह में सबसे आगे घुड़ सवार चल रहे थे। इनके पीछे चल समारोह में डीजे की धुन पर युवा थिरकते हुए चल रहे थे। साथ में बड़ी संख्या में महिलाएं भजन कीर्तन करते हुए चल रही थीं।

इस मौके पर कुशवाह समाज के लोग भगवान लवकुश के जयघोष लगाते हुए चल रहे थे। कुशवाह समाज के जिला अध्यक्ष कमलेश कुशवाह, चल समारोह प्रभारी रामचंदर कुशवाह, लक्ष्मीनारायण कुशवाह, जगदीश कुशवाह, सानंद कुशवाह, मुकेश कुशवाह, डा. माधव सिंह, पूर्व अध्यक्ष संतोष कुशवाह, दिनेश कुशवाह, इमरत लाल कुशवाह, बलराम कुशवाह, पूनम कुशवाह, किशोरी लाल, राजू कुशवाह, वृंदावन कुशवाह, देवचंद कुशवाह, माखन कुशवाह, गणेश कुशवाह, मोना कुशवाह, छोटा मोना, जगन्नाथ कुशवाह, मनोहर, धीरेंद्र, निब्बूलाल, दयालाल, जितेंद्र कुशवाह, लखन कुशवाह, दिनेश कुशवाह पप्पी सहित समाज के अन्य लोग मौजूद थे।

इन्होंने किया स्वागत

हिंदू उत्सव समिति: कोतवाली चौराहा पर समिति के अध्यक्ष सतीश राठौर के नेतृत्व में चल समारोह का स्वागत किया गया।

इस मौके पर चल समारोह प्रभारी रामचंदर पटेल, लक्ष्मी नारायण कुशवाह, सदानंद कुशवाह का साफा बांधकर सम्मान किया गया। इस मौके पर शंकर सम्राट, दिलीप राठौर, अखिलेश चौरसिया, मोहन पहलवान, पप्पू धाड़ी, राजेंद्र व्यास, प्रदीप समाधिया, रमेश प्रजापति, सुरेश जायसवाल, राजू राठौर, किशन पहलवान, मनोज पहलवान आदि मौजूद थे।

कलचुरि सोशल ग्रुप: मेन रोड पर कलचुरि सोशल ग्रुप के अध्यक्ष प्रदीप बिजोरिया के नेतृत्व और संस्थापक सुरेश जायसवाल के मार्गदर्शन में कुशवाह समाज के अध्यक्ष कमलेश कुशवाह और रामचंदर पटेल का सम्मान किया गया। इस मौके पर परमानंद राय, मोहन राय, रमेश राय, कुंदन राय, राकेश राय, ओमप्रकाश राय, सुरेश राय आदि थे।

दिगम्बर जैन समाज: समाज के लोगों ने चल समारोह पर पुष्प वर्षा कर भव्य स्वागत किया। इस मौके पर समाज के अध्यक्ष इंजी. अजय जैन, देवचंद जैन, शील चंद जैन, विमल जैन, आशीष जैन, महावीर जैन, निश्चिल जैन, सुनील कुमार जैन, नरेश जैन, नानू जैन, पिंटू जैन आदि थे। 



लवकुश के गूंजे जयकारे...


सिख समाज: कोतवाली चौराहे पर चल समारोह का सिख समाज ने भी स्वागत किया। इस मौके पर महेंद्र सिंह अरोरा मिंदी, कर्नल सिंह बग्गा, गोविंद सिंह जुनेजा, हरभजन सिंह, पपिंदर सिंह, मंजीत सिंह सेठी, लवी दुआ, मंजीत सिंह भाटिया, हरप्रीत लाबा, नीतू सेवादास, गुरमीत सिंह सलूजा, चरनजीत सिंह चन्ना थे।

कोतवाली चौराहा पर विधायक रमेश सक्सेना, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जसपाल सिंह अरोरा ने भी पदाधिकारियों को साफा बांधकर स्वागत किया। तहसील चौराहा के आगे कमलेश कुशवाह और अन्य पदाधिकारियों का स्वागत बोहरा समाज के मुतफा हुसैन, शब्बीर हुसैन, शब्बर सेफी, फकरुद्दीन आदि ने स्वागत किया। कोतवाली चौराहा पर पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जसपाल सिंह अरोरा फेंस क्लब ने स्वागत किया। इस मौके पर जसपाल सिंह अरोरा, ओम यादव, भोजराज यादव, जैकी अली, महेश दुबे, विन्नी अरोरा मौजूद थे। भोपाल नाका पर कांग्रेस नेता हरीश राठौर, राजाराम बड़े भाई, हफीज चौधरी, दिनेश भैरवे आदि ने स्वागत किया।कांग्रेस नेता कमलेश कटारे के नेतृत्व में कोतवाली चौराहा पर स्वागत किया। इस अवसर पर शंकर खरे, विजय भटेले, केजी बैरागी, सुनील जाटव, आशीष गुप्ता, सुभाष चौरसिया, पुरुषोत्तम मीणा, भगत तोमर आदि थे। अन्नू चौहान मित्र मंडल ने भी स्वागत किया। इस मौके पर अशोक वशिष्ठ, सत्येंद्र त्यागी, दीपक शर्मा आदि मौजूद थे।


नोट ----सभी जानकारी विभिन्न दैनिक समाचार पत्रों में प्रकशित पत्रों से  एकत्रित की गयी हे।

Friday, July 13, 2012

akhil bhartiya kushwah mahasabha, rastriya karyakarini bethak, indore





akhil bhartiya kushwah mahasabha, delhi ki do divsiya karyakarini bethak









bethak ko sambhodit karte  huve rashtriya mahamantri shri rakesh mahto ji.




















 meeting ki adhykshata karte huve shri narayan singh ji kushwah rashtriya adhyksha evam grah, jail evam parivahan rajya mantri m.p. govt., shri rakesh mahto ji, shri mahendra hardia ji swasthya rajya mantri m.p. govt.





meeting me aapni baat rakhte huve shri jugal kishore kushwah, rashtriya koshadhyksha.










programme ki shuruvat me kushwah mahasabha indore ke adhyksha shri rameshwar ji kushwah kushwah samaj ki aur se rastriya adhyksha ji ka pratik chinha dekar swagat karte huve.

rashtriya upadhyksha shri j.d. koushal ji ka swagat karte huve shri rameshawar kushwah ji.










poorva rashtriya adhyksha shri babulal bhanpur ji ka ji ka swagat karte huve shri naryan singh  kushwah ji.










rashtriya salahkar samiti ke sadsya shri basant kapariya ji ka swagat karte huve shri rameshawar kushwah ji.









rashtriya sachiv shri ramvishwash ji ka swagat karte huve shri rameshawar kushwah ji.










meeting ke douran smt. alka saini ji rashtriya sachiv akhil bhartiya kushwah mahasabha ka puspmala se swagat karte huve smt. radha kushwah





prantiya yuva kushwah mahasabha ke adhyskah shri narayn singh kushwah ji (vidisha)
ka swagat karte huve shri rameshwar ji kushwah










akhil bhartiya kushwah mahasabha ke rashtriya adhyksha shri narayan singh ji kushwah rashtriya adhyksha evam grah, jail evam parivahan rajya mantri m.p. govt. ka swagat pusp mala se karte huve prantiya yuva kushwah mahasabha ke pradesh upadhyskah shri manoj kushwah.

meeting me manchaseen shri babulal ji bhanpur, shri basant kapariya ji, smt. alka saini ji, smt. rjkumari ji kushwah.








meeting me manch sanchalan karte huve shri ramvishwash ji kushwah.












meeting me upasthit shri rajju mourya (chhatisgarh) rashtriya upadhyksha evam smt. rajkumari ji kushwah rashtriya schiv.










shri ayodhya prasad ji kushwah rashtriya upadhyaksha dwara kushwah samaj indore ko diye gaye 1,00,000 rs. ko indore kushwah samaj ke adhyksha ko soupte huve shri narayan singh kushwah ji, shri rakesh mahto ji evam shri mahendra hardiya ji.


meeting me apne vichar sadan me prastut karte huve prantiya yuva kushwah mahasabha ke pradesh upadhyskah shri manoj kushwah.










meeting me moujood shri narayan singh kushwah, shri rakesh mahto ji evam shri mahendra mourya ji.











meeting ki adhyskata karte huve rashtriya adhyksha shri narayan singh ji kushwah













meeting me apne vichar rakhte huve rashtriya sachiv smt. alka saini ji













meeting me upasthit rashtriya adhyksha ji ke sath shri motilal shashtri ji, jugal kishore ji kushwah, babulal bhanpur ji, manoj kushwah.















































































































































































meeting me padhare rashtriya mahamantri shri rakesh mahto ji, shri j.p. verma ji rashtriya upadhyksha sath he shri prem kushwah ji karyakarini sadsya.









meeting me padhare padadhikarigan




















































































































































programme ke samapan awasar par memory ke liye photo niklate huve sabhi  rashtriya evam indore ke padadhikari.